पश्चिमी हिमालयी समशीतोष्ण वृक्षोद्यान परियोजना की सलाहकार समीति की बैठक आयोजित

Spread the love
पश्चिमी हिमालयी समशीतोष्ण वृक्षोद्यान परियोजना की सलाहकार समीति की बैठक आयोजित
वन विभाग के वन्यप्राणी प्रभाग द्वारा वित्त पोषित पश्चिमी हिमालयी समशीतोष्ण वृक्षोद्यान परियोजना की सलाहकार समीति की बैठक प्रधान मुख्य अरण्यपाल (वन्यप्राणी) एवं मुख्य वन्यप्राणी संरक्षक हिमाचल प्रदेश राजीव कुमार की अध्यक्षता में आयोजित की गई। इस परियोजना का क्रियान्वयन हिमालयन वन अनुसंधान संस्थान, पंथाघाटी द्वारा किया जा रहा है।
इस अवसर पर प्रधान मुख्य अरण्यपाल (वन्यप्राणी) राजीव कुमार ने कहा कि इस परियोजना के अन्तर्गत शिमला में वृक्ष-उद्यान विकसित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस वृक्ष-उद्यान में पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि उद्यान में पानी की सुविधा व आग जैसी घटनाओं से निपटने के लिए भी उचित प्रबन्ध किए जाएंगे।
बैठक के दौरान डॉ. संजीव, निदेशक व वैज्ञानिक हिमालयन वन अनुसंधान संस्थान, पंथाघाटी एवं पश्चिमी हिमालयी समशीतोष्ण वृक्षोद्यान परियोजना के प्रभारी डॉ. वनीत जिष्टू ने परियोजना की संकल्पना, उद्देश्य व परियोजना के अन्तर्गत किए जाने वाले विभिन्न कार्यों की रूपरेखा पर विस्तृत प्रस्तुति दी।
डॉ. वनीत जिष्टू ने बताया कि इस परियोजना के माध्यम से शिमला शहर में हरित स्थलों को वृक्षोद्यान द्वारा बढ़ाया जाएगा। इस परियोजना का मुख्य उद्ेश्य शिमला व इसके आस-पास के क्षेत्रों में पौधे रोपित करना, पेड़ों को स्वस्थ रखना, शहरी जैव विविधता का संरक्षण, स्थानीय वृक्षों की प्रजातियों को रोपित करके पारिस्थितिकी संतुलन बनाना, लोगों को जागृत करना, पौध रोपण द्वारा शहरी वनीकरण व वाटिकाएं तैयार करना आदि है।
बैठक में अतिरिक्त प्रधान मुख्य अरण्यपाल (वन्यप्राणी) अनिल ठाकुर, मुख्य अरण्यपाल (वन्यप्राणी) के. थीरूमल, निदेशक हिमालयन अनुसंधान ग्रुप डॉ. लाल सिंह सहित विभिन्न संस्थानों के वैज्ञानिक व अधिकारी भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post आयुष डॉक्टरों की मांगों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार किया जाएगा: स्वास्थ्य मंत्री
Next post फर्जी काॅल से रहे सावधान -अपना एटीएम पिन नंबर शेयर न करें-रविन्द्र ठाकुर
Close