अव्यस्क अनाथ बच्चों की सम्पति की रक्षा के लिए गठित जिला स्तरीय समिति की बैठक का आयोजन किया गया।

Spread the love

उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी की अध्यक्षता मंे आज यहां अव्यस्क अनाथ बच्चों की सम्पति की रक्षा के लिए गठित जिला स्तरीय समिति की बैठक का आयोजन किया गया।
उन्होंने कहा कि जिला शिमला में वर्ष 2017 से 2020 तक 194 अनाथों की पहचान की गई है, जिसमें 87 अनाथ बच्चों की सम्पति की रक्षा के लिए जमाबंदी की जा चुकी है। इसके अतिरिक्त जिला में 51 नए अनाथ बच्चों की पहचान की गई है, जिसमें 08 बच्चों की सम्पति की सुरक्षा प्रदान की जा चुकी है। उन्होंने जिला राजस्व अधिकारी को अनाथ बच्चों की सम्पति की रक्षा करने के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए ताकि उन बच्चों के साथ किसी भी प्रकार का भेदभाव न हो सके।
बैठक में जिला कार्यक्रम अधिकारी ममता पाॅल, जिला राजस्व अधिकारी एवं तहसीलदार शिमला (शहरी) सुमेध शर्मा, जिला बाल संरक्षण अधिकारी रमा कंवर एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post उतराला-होली सड़क निर्माण को पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय की मंजूरीः राकेश पठानिया
Next post एसजेवीएन ने पर्यावरण संरक्षण के लिए प्रतिष्ठित ग्रीनटेक अवार्ड हासिल किया
Close