प्रदेश में महिलाओं की सुरक्षा, सेवा और सशक्तिकरण के लिए अपनी वचनबद्धता को निभाते हुए अनेक योजनाओं व कार्यक्रमों को लागू किया

Spread the love

हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश में महिलाओं की सुरक्षा, सेवा और सशक्तिकरण के लिए अपनी वचनबद्धता को निभाते हुए अनेक योजनाओं व कार्यक्रमों को लागू किया गया है। यह विचार आज शहरी विकास, आवास, नगर नियोजन, संसदीय कार्य, विधि एवं सहकारिता मंत्री सुरेश भारद्वाज ने शिमला के ऐतिहासिक गेयटी थियेटर में मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना के तहत आयोजित राज्य स्तरीय कार्यक्रम में अपने संबोधन में व्यक्त किए।
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी द्वारा आरम्भ की गई उज्जवला योजना से छूटे परिवारों को लाभ प्रदान करने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना अभी तक प्रदेश में 4 लाख 70 हजार पात्र महिलाओं को गैस के कनेक्शन प्रदान करने में सफल हुई है तथा यह सिलसिला निरंतर जारी है।
उन्होंने कहा कि अभी तक प्रदेश में 2 लाख 51 हजार लाभार्थियों को पहला तथा 40 हजार लाभार्थियों के लिए दूसरा अतिरिक्त मुफ्त रिफिल प्रदान किया गया है। उन्होंने बताया कि जिला शिमला में 18 हजार 735 लाभार्थियों को कनेक्शन प्रदान किए गए हैं जबकि 13 हजार 444 लाभार्थियों को पहला रिफिल और 4 हजार 101 लाभार्थियों को दूसरा रिफिल प्रदान कर दिया गया है।
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के प्रयासों व खाद्य आपूर्ति विभाग की सक्रिय कार्य प्रणाली से प्रदेश देश में प्रथम धुंआ मुक्त राज्य बना है। उन्हांेने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की तत्कालीन व वर्तमान सरकार के प्रयासों से महिलाओं की सुरक्षा, सेवा और सशक्तिकरण के लिए अनेक घोषणाएं की गई।
नगर निकायों व पंचायती राज प्रणाली में महिलाओं को 50 प्रतिशत आरक्षण राजनैतिक व संवैधानिक तौर पर सशक्त बनाता है वहीं करवा चैथ, रक्षा बंधन, भाई दूज की छूट्टी महिलाओं को सामाजिक तौर पर सुदृढ़ता प्रदान करती है।
हिमाचल प्रदेश सरकार ने महिलाओं को मातृत्व अवकाश में पहल कर उनके स्वास्थ्य के प्रति सुरक्षा प्रदान की है। महिलाओं को हिमाचल पथ परिवहन निगम की बसों मंे 50 प्रतिशत आरक्षण प्रदान कर प्रदेश सरकार ने महिलाओं की आर्थिकी को सुदृढ़ करने के लिए विशेष प्रयास किए हैं।
इस अवसर पर उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी ने पूजा, नीशा, नीशा देवी, मेधा वर्मा, नीना, मेघलु, कांता देवी, कृष्णा, प्रेम लता को नये कनैक्शन और कविता, सुनीता, रूपिका, ज्योति, प्रोमिला, शीता, सोनु, रेनु को पहली रिफिल तथा कौशलया देवी, अनिता शर्मा, सोमिका देवी, प्रभा देवी, देव कला, प्रभु देवी को दूसरा रिफिल प्रदान किया।
इस अवसर पर हिमफैड के अध्यक्ष गणेश दत्त, एपीएमसी शिमला-किन्नौर के अध्यक्ष नरेश शर्मा, अतिरिक्त उपायुक्त शिवम प्रताप सिंह, जिला नियंत्रक पूर्ण चंद ठाकुर, खाद्य नागरिक आपूर्ति अधिकारी श्रवण कुमार हिमालयन, निवर्तमान महापौर सत्या कौंडल, निवर्तमान पार्षद किमी सूद उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post मुख्यमंत्री ने कुल्लू में मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना-राज्य स्तरीय लाभार्थी संवाद कार्यक्रम की अध्यक्षता की
Next post हिमाचल शिक्षा समिति द्वारा आयोजित 32वीं खेलकूद का दूसरा चरण बिलासपुर में सम्पन्न
Close