भारत को सशक्त नेतृत्व की जरूरत दुनिया में चल रहा तनाव

Spread the love

भारत के विदेश मंत्री डॉ एस जयशंकर ने हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में दुनिया में चल रहे संघर्ष को लेकर देश में एक सशक्त नेतृत्व को चुनने का आग्रह किया उन्होंने कहा आज देश को  एक मजबूत और शक्तिशाली नेता की जरूरत है।” जयशंकर ने पूछा, “अगर आपका परिवार रूस-यूक्रेन युद्ध के दौरान यूक्रेन में होता, तो आप राष्ट्र के शीर्ष पर किसे चाहते होते – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी या कोई और चेहरा।” ‘हमारी सीमाओं पर भी हो सकते हैं संघर्ष’ विदेश मंत्री एस जयशंकर ने मीडियाकर्मियों से कहा कि “मैं आगे चार-पांच साल का कठिन समय देख रहा हूं और मतदाताओं को समझदारी से मतदान करना चाहिए, क्योंकि हमारी सीमाओं पर भी इसी तरह के संघर्ष हो सकते हैं।” चीन सीमा पर 1962 में ली गई जमीन पर सड़क, पुल और मॉडल गांव का निर्माण कर रहा है और उसने पाकिस्तान और भारत के समन्वय से सियाचिन तक सड़क भी बनाई है, सीमा पर सेनाएं तैनात की हैं, रसद में सुधार किया है और भारत-चीन के लिए बजट भी तैयार किया है। विदेश मंत्री ने कहा कि सीमा के लिए बजट को 3000 करोड़ रुपये से बढ़ाकर 15,000 करोड़ रुपये कर दिया गया है। बॉक्स विदेश मंत्री ने कहा जहां तक सेब आयत शुल्क बढ़ाने की बात है तो यह  पिछली सरकार के दौरान हुआ है और हमारी सरकार या सुनिश्चित करेगी कि गलत तरीके से जिन देशों से भारत पहुंच रहा है  निगरानी की जानी चाहिए ताकि  कीमतों पर ज्यादा असर न पड़े आज के दौर में इन फलों के अलावा अन्य सामान भी कई देशों से गलत तरीके से गलत रूट से माल हिंदुस्तान पहुंचता है उन्होंने आगे कहा कि इस मामले को लेकर इससे संबंधित अन्य विभाग भी हैं जिसका इसमें दखल रहता है इसलिए सभी मंत्रालय से बात कर इस मामले पर गंभीरता से कोई निर्णय लिया जाएगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post दर्जी के पास ही पड़ा रहेगा जयराम का नया कालाकोट
Next post हिमाचल में चारों लोकसभा सीटों पर  बीजेपी आगे
Close