विधानसभा चुनाव में कांग्रेस स्व. वीरभद्र सिंह के विकास मॉडल पर होगा चुनावी रण

Spread the love
  • कांग्रेस आलाकमान को प्रदेश स्तर के नेता की कमी खली, प्रतिभा सिंह ही संभालेगी विरासत 

शिमला, विमल शर्मा।

हिमाचल प्रदेश में कांग्रेश विधानसभा का चुनाव पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय राजा वीरभद्र सिंह के नाम पर लड़ा जाएगा कांग्रेस का मानना है कि हिमाचल प्रदेश में वीरभद्र सिंह के मॉडल को लोग हाथो हाथ लेंगे और कांग्रेस की नैया पार हो जाएगी इसकी एक वजह यह भी है हिमाचल में कांग्रेस के पास ऐसा कोई चेहरा है ही नहीं जो पूरे प्रदेश में कांग्रेस की नैया पार लगा सके इसलिए कांग्रेस आलाकमान केेेे पास कोई विकल्प नहीं दिखाई पड़ रहा जिसकेे चलत कांग्रेस पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह के नाम पर ही विधानसभा लड़ेगा इससे साफ हो जाता अगर प्रदेश की जनता वीरभद्र सिंह केेे विकास मॉडल को पसंद करती है तो उन्हें उनकी धर्मपत्नी सांसद एवं हिमाचल प्रदेश कांग्रेस की अध्यक्ष प्रतिभा सिंह को भावी मुख्यमंत्री के नााम प प्रोजेक्ट करना पड़ेगा इसेे कांग्रेस की मजबूरी समझें या फिर जनता के जनादेेश को हासिल करने के लिए एक रणनीति के तहत काम कियाा जा यह बात हम यूं ही नहीं कर रहे इस मसले पर बीते दिनों हिमाचल के प्रभारी राजीव शुक्ला के घर पर मंथन भी हुआ जिसमें यह नतीजा निकला कि राजा वीरभद्र सिंह के विकास मॉडल को ही विधानसभा चुनाव में उतारा जाए और जनता सेेे भावनात्मक पहलू और कांग्रेस द्वारा पूर्व में किए गए विकास कार्यों के नाम पर वोट हासिल कियाा जाए

नई दिल्ली में प्रदेश प्रभारी राजीव शुक्ला के घर पर अहम बैठक हुई। बैठक में राजीव शुक्ला ने सभी कांग्रेस नेताओं को समय से पहले चुनाव करवाए जाने को लेकर भी तैयार रहने को कहा। इसके अलावा बीजेपी को कैसे सत्ता से बाहर करना है को लेकर रणनीति बनाई गई। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार हिमाचल कांग्रेस के अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव व प्रदेश प्रभारी राजीव शुक्ला के साथ बैठक के बाद संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल के साथ भी बैठक हुई है।

बैठक में दोनों नेताओं ने मिशन सत्ता को लेकर रोडमैप तैयार किया। प्रदेश कांग्रेस के नेताओं ने कहा कि पूर्व सीएम स्व. वीरभद्र सिंह  के विकास मॉडल पर पार्टी चुनावी मैदान में उतरेगी। इसके अलावा उन्होंने हिमाचल कांग्रेस को महंगाई, बेरोजगारी और पुलिस कांस्टेबल पेपर लीक मामले जैसे मुद्दों को लेकर आम जनता के बीच जाने के निर्देश दिए हैं। बैठक में राजीव शुक्ला ने कहा कि हिमाचल कांग्रेस सीएम चेहरे की बात भूलकर जमीन स्तर पर काम शुरू करे। हिमाचल की सत्ता से बीजेपी को बाहर करने के लिए सभी नेताओं को मनमुटाव भूलने की भी हिदायत दी गई।

बैठक में यह नेता हैं मौजूद
कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी राजीव शुक्ला के घर में चल रही बैठक में हिमाचल कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष प्रतिभा सिंह, सुखविंदर सिंह सुक्ख, रवनीत सिंह बिट्टू, रजनीश किमटा, पवन काजल, राजेंद्र राणा, हर्ष महाजन, विनय ठाकुर, विक्रमादित्य सिंह, मोहन लाल ब्राक्टा और यशवंत छाजटा मौजूद हैं। वहीं इस बैठक में नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री मौजूद नहीं हैं।

प्रतिभा सिंह ने की राहुल गांधी से मुलाकात
प्रतिभा सिंह ने मंगलवार शाम राहुल गांधी के आवास पर उनसे मिलने पहुंची। इस दौरान दोनों नेताओं में संगठनात्मक विषयों पर हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post डीजीपी कुंडू का दावा, पेपर लीक के किंग पिन तक पहुंचे हिमाचल पुलिस के हाथ
Next post हिमाचल प्रदेश मंत्रिमंडल के फैसले : एचआरटीसी बसों के किराये में 50% छूट
Close